राज्य सरकार की कथनी और करनी में आसमान की अंतर,गरीबों के आशियानों पर बुलडोजर की कार्रवाई,तो रसूखदारों के आगे नतमस्तक

राज्य सरकार की कथनी और करनी में आसमान की अंतर,गरीबों के आशियानों पर बुलडोजर की कार्रवाई,तो रसूखदारों के आगे नतमस्तक

 

देखते रह गए जिम्मेदार करोड़ों की शासकीय भूमि पर कब्जा कर बन गया आलीशान दुकान

कूड़े की टोकरी में नपं उपाध्यक्ष की शिकायत के कापी

गरीबों की छोटी मोटी मकानों पर कार्रवाई कर कागज के शेर बनने वाले सरकार के जिम्मेदार अधिकारी रसूखदारों द्वारा शासकीय भूमि पर अवैध कब्जा कर दुकान निर्माण कराने वाले व्यवसायी के खिलाफ नही जुटा पा रहे करवाई करने हिम्मत

जैजैपुर  :  नगर पंचायत जैजैपुर में शासकीय घांस मद की भूमि पर अवैध रूप से कब्जा कर आलीशान दुकान निर्माण करने का मामला सामने आया है। जहां नगर के एक किराना दुकान चलाने वाले व्यवसाई ने अपने दुकान के सामने खाली पड़े बेशकीमती शासकीय घांस मद की भूमि पर अवैध रूप से कब्जा कर दुकान का निर्माण किया है। ऐसा भी नही है कि शासकीय भूमि पर हो अवैध रूप से कब्जा कर दुकान निर्माण की जानकारी स्थानीय प्रशासन को नही है। नगर पंचायत जैजैपुर के उपाध्यक्ष दिलीप चंद्रा ने जब शासकीय भूमि पर दुकान निर्माण शुरू हुआ तभी जैजैपुर तहसील कार्यालय, नगर पंचायत के सीएमओ शिकायत करते हुए निर्माण कार्य मे रोक लगाने की मांग करते हुए,शासकीय भूमि पर कब्जा करने वाले के खिलाफ कार्रवाई की भी मांग किये थे। दरअसल पूरा मामला जैजैपुर के यादव समुदायिक भवन के बगल जैजैपुर-बाराद्वार मुख्य सड़क में अभिषेक अग्रवाल पिता नटवरलाल के द्वारा अपने निजी भूमि के सामने शासकीय भूमि खसरा नम्बर 5160/1/क रकबा 2.495 में अवैध कब्जा कर आलीशान दुकान का निर्माण कर दिया। लेकिन स्थानीय प्रशासन अवैध कब्जा को हटाने के बजाय नोटिस के ऊपर नोटिस भेजते रहे है और करोड़ो रूपये की शासकीय घांस मद की भूमि पर लाखों रुपये की लागत से दुकान बनकर तैयार हो गया। जिसे लेकर अब नगर के लोगों के मन मे स्थानीय प्रशासन और सरकार के प्रति नाराज़गी देखी जा रही है। लोगों का साफ तौर पर कहना है, इस अवैध निर्माण को तोड़कर प्रशासन कड़ी कार्रवाई नही करती है तो आने वाले दिनों में नगर में एक भी शासकीय भूमि नही बचेगा। खाली पड़े शासकीय भूमि लोग इसी तरह कब्जा कर मकान दुकान का निर्माण करेंगे।

पटवारी प्रतिवेदन में स्पष्ट है शासकीय घांस मद की भूमि

पूरे मामले की जब तहसील कार्यालय में शिकायत होने के बाद तहसीलदार ने हल्का पटवारी को मौके पर जाकर जांच करने के साथ ही पंचनामा बनाकर कार्यालय में देने की निर्देश दिए। तब हल्का पटवारी जैजैपुर में राजस्व रिकार्ड के साथ मौके पर जाकर जांच करने पर अभिषेक अग्रवाल पिता नटवर लाल अग्रवाल द्वारा खसरा नंबर 5160/1 क रकबा 2.495 हेक्टेयर शासन की घांस मद के भूमि पर अतिक्रमण कर मकान बनाने की स्पष्ट पंचनामा तैयार कर तहसील कार्यालय में जमा किया गया था। इसके बाद भी तहसीलदार द्वारा शासकीय भूमि पर हो रहे अतिक्रमण को तोड़ने में कोई रुचि नहीं दिखाई।

करोड़ो की भूमि पर कब्जा हटाने तहसीलदार ने क्यों नही दिखाई रुचि

अभिषेक अग्रवाल द्वारा जैजैपुर बाराद्वार मुख्य सड़क मार्ग से लगे शासकीय भूमि पर कब्जा कर दुकान निर्माण किया है। आज नगर के उसी आसपास में लोग यदि जमीन खरीदी करें तो उन्हें सड़क किनारे वैसी जमीन 20 लाख रुपये डिसमिल में भी नही मिलेगा। लेकिन हैरानी की बात है, सरकार की करोड़ो रूपये की जमीन पर एक रसूखदार व्यापारी पहले कब्जा करता है। उसके बाद उसमें लाखों रुपए की लागत से दुकान निर्माण करा लेता है। लेकिन जैजैपुर के तहसीलदार इस अवैध निर्माण कार्य को तोड़ने की हिमाकत नही कर पाते है। जो सोचनीय विषय है।

थाना प्रभारी को दिए प्रतिबंधात्मक कार्रवाई के निर्देश

आपको बता दे जैजैपुर तहसीलदार ने शासकीय भूमि पर कब्जा कर दुकान निर्माण कर रहे अभिषेक अग्रवाल पिता नटवरलाल अग्रवाल के खिलाफ जैजैपुर पुलिस को 15 मार्च 2024 को धारा 107,116,151 के तहत कार्रवाई कर तीन दिवस के भीतर तहसील न्यायालय में पेश करने पत्र जारी किये। लेकिन जैजैपुर पुलिस ने भी तहसील न्यायालय से मिले पत्र पर किसी तरह की कोई कार्रवाई नही करने पर, तहसील न्यायालय को दोबारा 18 मार्च 24 को दोबारा जैजैपुर थाना प्रभारी को स्मरण पत्र भेजना पड़ गया लेकिन जैजैपुर पुलिस आज तक शासकीय भूमि पर कब्जा कर दुकान निर्माण करने वाले अभिषेक अग्रवाल के खिलाफ कार्रवाई नही कर पाई है। जिससे पुलिस,प्रशासन और अभिषेक अग्रवाल की मिलीभगत से इनकार नही किया जा सकता है।

शासकीय भूमि से बेदखली करने का आदेश जारी हो गया है बहुत जल्द शासकीय भूमि पर बने अवैध दुकान को तोड़ने की कार्रवाई की जाएगी

अनुराग भट्ठ
तहसीलदार जैजैपुर

अभिषेक अग्रवाल द्वारा शासकीय भूमि में अतिक्रमण करने के संबंध में तहसील कार्यालय से प्रतिबंधात्मक कार्रवाई करने पत्र मिला है,मामले की जांच कर अग्रिम कार्रवाई की जायेगी

ललित चंद्रा
थाना पुलिस जैजैपुर

मेरे द्वारा अभिषेक अग्रवाल द्वारा की जा रही शासकीय जमीन की अवैध कब्जा का शिकायत किया था और जांच में शासकीय भूमि पर दुकान निर्माण हुआ है। इस अवैध कब्जा तो जल्द तोड़ा नही गया तो मैं इसकी शिकायत कलेक्टर से करूंगा।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *