छत्तीसगढ़ : अब दिव्यांग-वृद्धजनों को घर बैठे मिलेगी पेंशन, कलेक्टर ने दिए निर्देश…

छत्तीसगढ़ : अब दिव्यांग-वृद्धजनों को घर बैठे मिलेगी पेंशन, कलेक्टर ने दिए निर्देश…

कोण्डागांव : कलेक्टर कुणाल दुदावत द्वारा जिले में संचालित योजनाओं एवं कार्यों की प्रगति की समीक्षा हेतु समय सीमा बैठक का आयोजन किया गया। इस बैठक में उन्होंने जिले के सभी दिव्यांग एवं 60 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के लोगों के लिए वृद्धावस्था पेंशन प्राप्तकर्ताओं के घर पहुंच कर बीसी सखी के माध्यम से पेंशन के वितरण कराने हेतु निर्देश दिये। इसके लिए सभी संबंधित विभागों को समन्वय स्थापित कर घर पहुंच पेंशन वितरण की इस अभिनव पहल को सफल बनाने हेतु एकीकृत कार्ययोजना बनाने हेतु कहा गया।

कलेक्टर ने ग्रामीण स्तर पर लोगों की शिकायतों के निवारण हेतु ग्राम सचिवालयों को नियमित संचालित करने एवं प्रत्येक सात से पंन्द्रह दिवस के भीतर ग्रामीण सचिवालय लगाकर जन समस्याओं को प्राप्त करते हुए उसका निराकरण ग्राम स्तर पर करने हेतु निर्देश दिये गये। इस संबंध में उन्होंने कहा कि ग्राम सचिवालय के नियमित संचालन से लोगों को उनकी विभिन्न समस्याओं का समाधान ग्राम स्तर मिल जाने से शिकायत निवारण की गति में वृद्धि होगी एवं शत प्रतिशत शिकायतों का निवारण स्थानीय स्तर पर ही किया जा सकेगा।

उन्होंने प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के तहत ऐसे परिवार जिनके सदस्यों की मृत्यु हो गयी है, उन्हे बीमा राशि उपलब्ध कराने की दर में वृद्धि करने तथा शत प्रतिशत बीमा क्लेम सुनिश्चित करने हेतु अधिकारियो को किसी भी मृत्यु प्रकरण पर 15 दिवस के भीतर संबंधित व्यक्ति के बीमा के संबंध जानकारी प्राप्त कर उनका प्रकरण तैयार करते हुए उन्हे बीमा क्लेम प्राप्ति में शत प्रतिशत सहयोग हेतु निर्देश दिये। उन्होंने शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में पीएम आवास योजना के तहत आवास निर्माण में तेजी लाने एवं वृद्धावस्था तथा दिव्यांग पेंशन के लम्बित प्रकरणों के निराकरण हेतु मिशन मोड में कार्य करते हुए विकासखण्ड स्तर पर सभी संबंधित विभागों के समन्वय से विशेष शिविरों का आयोजन कर सभी आवेदनों का निराकरण करने के निर्देश दिये।

पीएम स्वनिधी योजनांतर्गत शत प्रतिशत स्ट्रीट वेंडर को करें लाभान्वित
कलेक्टर ने सभी नगरीय निकायों के अंतर्गत कार्यरत स्ट्रीट वेंडर्स का सर्वे कराते हुए मिशन मोड़ में कार्य करते हुए सभी पात्र हितग्राहियों हेतु स्वनिधी योजनांतर्गत प्रकरण निर्माण कर लाभान्वित करने हेतु निर्देश दिये। इसके अतिरिक्त पॉम आयल उत्पादन हेतु किसानों को प्रोत्साहित करते हुए मयूरडोंगर एवं चारगांव में एफआरए क्लस्टर के युवाओं को भी योजना का लाभ दिलाने तथा वनाधिकार पट्टाधारी युवाओं को रोजगार मूलक कौशल का प्रशिक्षण देने हेतु निर्देशित किया।

प्रवेश उत्सव पर शालाओं में न्योता भोज का होगा आयोजन
कलेक्टर ने आगामी शि़क्षा सत्र के प्रारंभ में होने वाले शाला प्रवेश उत्सव पर सभी विद्यालयों में न्योता भोज कराने हेतु सभी को प्रोत्साहित किया गया और इस अवसर पर अधिकारियों को स्कूलों में जाकर बच्चों के साथ न्योता भोज का आनंद लेने हेतु कहा गया। उन्होंने बैठक में उपस्थित सभी अधिकारियों को अपने सामाजिक उत्सवों पर स्कूलों में न्योता भोज कराकर बच्चों को पोषण अभियान के तहत अतिरिक्त पोषण आहार उपलब्ध कराने हेतु अपील भी की गयी।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *