लगातार बारिश से महानदी में जलस्तर बढ़ा,प्रशासन इमरजेंसी अलर्ट मोड पर…

लगातार बारिश से महानदी में जलस्तर बढ़ा,प्रशासन इमरजेंसी अलर्ट मोड पर…

16  AUGUST 2022 चंद्रपुर : पिछले कुछ दिनों से हो रही लगातार बारिश से महानदी में जलस्तर बढ़ा है और नदी के तटीय इलाकों में बाढ़ की स्थिति निर्मित हो रही है। इसको देखते हुए प्रशासन भी अलर्ट हो गया है। इस स्थिति मे SDM   दिव्या अग्रवाल ने खुद चंद्रपुर आरी क्षेत्रो मे जाकर स्थिति का जायजा लिया व आवश्यक दिशा निर्देश दिये।

मौसम बिगड़ने के साथ ही बाढ़ की स्थिति बनने लगी देखते ही देखते बरमकेला मार्ग (लात नाला), सारंगढ़ – चंद्रपुर, चंद्रपुर – डभरा, चंद्रपुर – रायगढ़, चंद्रपुर – मिरौनी, चंद्रपुर – हीरापुर मार्ग पर पानी भरने लगा और अवगमन अवरुद्ध होने लगा। जिससे चंद्रपुर टापू कि स्थिति मे आने लगा बिगड़ती स्थिति की भयानकता की आशंका को ध्यान मे रख नायब तहसीलदार अभिजीत राजभानु ने तत्काल मौके पर पहुंच कर स्थिति का जायजा लिया व मुख्य नगरपालिका अधिकारी, विद्युत् विभाग के जे.ई. एवं अन्य अधिकारियो से चर्चा कर बचाव एवं राहत कार्य को लेकर सभी आवश्यक प्रबंध कराये। 14 अगस्त की शाम स्थानीय विधायक  रामकुमार यादव ने भी चंद्रपुर का दौरा किया एवं बाढ़ प्रभावितो का हाल जाना। इस दौरान उन्होंने शिविर मे रह रहे लोगो को किसी किस्म की असुविधा न होने की हिदायत जिम्मेदार अधिकारियो की दी।

वही जिला प्रशासन द्वारा जारी 15 अगस्त के रेड अलर्ट और गंगरेल डेम से छोड़े जा रहे पानी एवं भारी बारिस से बाढ़ की आशंका से निपटने प्रशासन ने कमर कस ली है। SDM सुश्री दिव्या ने स्वयं मुख्य नगरपालिका अधिकारी एवं नायब तहसीलदार के साथ क्षेत्र का एवं शिविर का दौरा किया एवं सुरक्षात्मक उपाय के साथ आपदा प्रबंधन को आवश्यक निर्देश दिये।

जिला प्रशांसन की ओर से SDM डभरा ने प्रभावित इलाकों से लोगों को सुरक्षित स्थानों पर शिफ्ट करने व उनके भोजन के लिए समुचित व्यवस्था के लिए सीईओ जनपदों व खाद्य अधिकारी संग सरपंच, सचिव आदि को निर्देशित किया है। वही चंद्रपुर मे शिविर मे भोजन व्यवस्था को श्री गोपाल जी महाप्रभु एवं श्री चंद्रहासिनी मंदिर न्यास को निर्देशित किया है।

नायब तहसीलदार राजभानु ने स्वास्थ्य विभाग को ऐसे प्रभावित इलाकों में डॉक्टरों व मेडिकल स्टॉफ राहत केंद्र मे इमरजेंसी मेडिकल सुविधा बनाये रखने कहा हैं। उन्होंने सभी जरूरी दवाइयों का स्टॉक भी रखने के लिए कहा है। वर्तमान मे शासकीय गौरमेंट स्कुल मे बाढ़ पीड़ितों के लिये कैम्प बनाया गया है अन्य प्रभावितो को देवांगन धर्मशाला एवं अन्य सुरक्षित स्थानों पर भेज दिया गया है।

चंद्रपुर नगर के साथ साथ थाना क्षेत्र चंद्रपुर के बालपुर, कलमा, पलसदा, काँसीडीह आदि ग्राम भी बाढ़ से प्रभावित होते है वहां भी आवश्यक उपाय प्रशासन द्वारा किये जा रहे है।
वर्तमान मे अकेले चंद्रपुर के राहत शिवर मे 500 से अधिक लोग आश्रय लिये हुए है। श्री गोपाल जी महाप्रभु एवं श्री चंद्रहासिनी मंदिर सार्वजनिक न्यास द्वारा भोजन आदि व्यवस्था करायी जा रही है।

नायब तहसीलदार अभिजीत राजभानु : बाढ़ की आशंका होने से 3 दिन से मै खुद दिन रात मुख्य नगरपंचायत अधिकारी के साथ मानिटरिंग कर रहा और आवश्यक पहल कर व्यवस्था बनवा रहा। वर्तमान मे 500 लगभग़ बाढ़ पीड़ित शिवरो मे है। सभी को सुरक्षित रखना हमारी जिम्मेदारी है। जिला प्रशासन एवं SDM मैडम के निर्देश पर थाना प्रभारी  सतरूपा तराम जी एवं मुख्य नगर पंचायत अधिकारी  मोहन लाल विश्वकर्मा जी के साथ सुचारु रूप से व्यवस्था की जा रही है। मंदिर न्यास का भी भोजन आदि मे विशेष सहयोग प्राप्त हो रहा है। नदी अभी भी खतरे के निशान से ऊपर 60 फ़ीट के पास बह रही है। अभी बारिस और डेम के पानी से बाढ़ कि आशंका को समझ हम एलर्ट पर है।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

en_USEnglish