भाठागांव बस टर्मिनल में बनी व्यवस्था:ड्राइवर-हेल्पर को वर्दी पहनना अनिवार्य, आईडी लगानी होगी

भाठागांव बस टर्मिनल में बनी व्यवस्था:ड्राइवर-हेल्पर को वर्दी पहनना अनिवार्य, आईडी लगानी होगी

राजधानी में बस ड्राइवर और हेल्पर को वर्दी पहनना अनिवार्य कर दिया गया है। उन्हें आईडी भी लगानी होगी। भाठागांव बस टर्मिनल में काम करने वाले सभी कर्मचारियों और हॉकर्स को आईडी जारी किया जाएगा। कोई भी वहां बिना आईडी के नहीं जा सकेंगे। अगर कोई बिना आईडी के दिखेगा, तो उसके खिलाफ सख्ती की जाएगी। वहीं, बस स्टैंड के भीतर 10 मिनट की गाड़ी पार्किंग की छूट दी गई है।

सवारी-सामान उतारने-चढ़ाने के लिए गाड़ी भीतर ले जा सकेंगे। उससे ज्यादा समय होने पर पार्किंग शुल्क लिया जाएगा। एसएसपी प्रशांत अग्रवाल ने बुधवार को बस ऑपरेटरों की बैठक में निर्देश दिए हैं। इसमें आरटीओ, निगम और ट्रैफिक पुलिस के अधिकारी मौजूद थे। बस ऑपरेटरों को निर्देश दिया गया है कि अधिकृत व्यक्ति ही टिकट काउंटर पर बैठेगा।

कहीं भी अवैध काउंटर नहीं लगाया जाएगा। कर्मचारियों को आईडी जारी किया जाएगा। एसएसपी ने 7 दिन का समय दिया है। उसके बाद पुलिस की सख्ती शुरू हो जाएगी। ज्ञात हो कि भाठागांव बस टर्मिनल में लगातार गुंडागर्दी की शिकायतें आ रही थीं। मारपीट, सट्टा और नशाखोरी का वीडियो वायरल हुआ था।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

en_USEnglish