छत्तीसगढ़ में भारी बारिश की चेतावनी, मौसम विभाग ने जारी किया रेड अलर्ट, इन जिलों में भारी बारिश की संभावना

छत्तीसगढ़ में भारी बारिश की चेतावनी, मौसम विभाग ने जारी किया रेड अलर्ट, इन जिलों में भारी बारिश की संभावना

 20 AUGUST 2022  रायपुर   : सिस्टम बनने से छत्तीसगढ़में एक बार फिर मूसलाधार बारिश होगी। 20 से 21 अगस्त तक छत्तीसगढ़ में कई जिलों में तेज बारिश होगी। मौसम विभाग ने 24 घंटों के लिए रेड और ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। इस दौरान भारी से अति भारी बारिश की संभावना है। मौसम विभाग ने प्रदेश के बिलासपुर, कोरबा, रायगढ़, जांजगीर-चांपा, मुंगेली व महासमुंद जिले के लिए रेड अलर्ट जारी किया गया है। वहीं कोरिया, सूरजपुर, बलरामपुर, सरगुजा व जशपुर, रायपुर, बलौदाबाजार, गरियाबंद, धमतरी, दुर्ग, बालोद, राजनांदगांव, कबीरधाम, बेमेतरा, बस्तर, कांकेर व कोंडागांव जिले में भारी बारिश की संभावना है। वर्षा का मुख्य क्षेत्र उत्तर और मध्य छत्तीसगढ़ रहेगा।

मौसम विज्ञानी एचपी चंद्रा के मुताबिक एक गहरा अवदाब उत्तर-पूर्व बंगाल की खाड़ी के ऊपर स्थित है। यह लगातार पश्चिम-उत्तर-पश्चिम दिशा में आगे बढ़ रहा है। यह गहरा अवदाब आगे बढ़ते हुए पश्चिम बंगाल और ओडिशा तट से उत्तर पश्चिम बंगाल की खाड़ी को पार करके बालासोर और सागर दीप के पास भूमि पर आने की संभावना है। इसके पश्चिम-उत्तर-पश्चिम दिशा में आगे बढ़ते हुए उत्तर ओडिशा, पश्चिम बंगाल, झारखंड, उत्तर छत्तीसगढ़ होते हुए आगे बढ़ने के आसार हैं। साथ ही उत्तर छत्तीसगढ़ पहुंचने के बाद थोड़ा कमजोर होने की संभावना है। बारिशके दौरान आकाशीय बिजली भी गिर सकती है।

4 संभागों में भारी बारिश का अनुमान
मौसम विभाग के मुताबिक मानसून द्रोणिका का पश्चिमी छोर हिमालय की तराई तथा पूर्वी छोर गोरखपुर, गया, बंकोरा, दिया, गहरा अवदाब के केंद्र से होते हुए दक्षिण-पूर्व की ओर पूर्व-मध्य बंगाल की खाड़ी तक स्थित है। प्रदेश में 20 अगस्त को सरगुजा संभाग, बिलासपुर संभाग, दुर्ग संभाग, रायपुर संभाग के जिलों में भारी से अति भारी और इससे लगे बस्तर संभाग के जिलों में भारी होने की संभावना है। बता दें कि पिछले दिनों हुई भारी बारिश से महानदी में गंगरेल व शिवनाथ नदी तांदुला, खरखरा, मोंगरा बांधों से हजारों क्यूसेक पानी छोड़ा गया था, जिससे डाउनस्ट्रीम के जिलों में बाढ़ के हालात थे।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

en_USEnglish