कोविड अस्पताल का बुरा हाल:जम्बो कोविड सेंटर में नाश्ता और खाना साथ पहुंच रहा, टॉयलेट ऐसा जो साफ नहीं हो रहा

कोविड अस्पताल का बुरा हाल:जम्बो कोविड सेंटर में नाश्ता और खाना साथ पहुंच रहा, टॉयलेट ऐसा जो साफ नहीं हो रहा

सीएम मेडिकल कॉलेज से सेक्टर-1 के जंबो कोविड सेंटर स्थानांतरित किए गए सरकारी कोविड अस्पताल का बुरा हाल है। मरीजों के वार्ड से अटैच टॉयलेट की न तो सफाई हो रही, न ही रोज निकलने वाला कचरा उठाया जा रहा है। वर्तमान में यहां सिर्फ एक कोरोना मरीज भर्ती है। हालांकि 24 घंटों में शिफ्टवार 3 चिकित्सक, 6 नर्सें और स्टॉफ ड्यूटी कर रहे हैं। यहां पदस्थ स्टॉफ और मरीज के लिए ब्रेक-फास्ट, लंच और डिनर पहुंचाने में भी लापरवाही बरती जा रही है।

लंच के समय ब्रेक फास्ट पहुंचाया जा रहा है। स्टॉफ चूंकि अपने घरों से आना-जाना कर रहे हैं, इसलिए ब्रेक-फास्ट डिनर के साथ पहुंचे तो भी कोई परेशानी नहीं है, लेकिन मरीज सफर कर रहा है। मंगलवार की सुबह करीब साढ़े 9 बजे अपने भर्ती मरीज के लिए नाश्ता लेकर पहुंचे परिजन ने पूरी जानकारी दी है। इसे लेकर स्थानीय प्रशासन से शिकायत भी की गई है। इसके बाद भी समस्या का निराकरण नहीं हुआ।

मरीज की शिकायत के बाद भी नहीं हुआ सुधार
टायलेट की सफाई के संबंध में वर्तमान में भर्ती मरीज से पहले भर्ती मरीज ने आन कॉल शिकायत की थी। वह डिस्चार्ज होकर अपने घर चली गई, संभवत: कोरोना से उबर भी गई हो, लेकिन आज-तक वार्ड के टॉयलेट के सफाई नहीं हो पाई। यहां झाड़ू तक नहीं लग रहा है।

इस बार 7 मरीज भर्ती हुए,सुरक्षा की अनदेखी
कोविड सेंटर में जून से अगस्त तक 7 मरीजों को भर्ती कराया गया है। उनका इलाज भी हुआ है। लेकिन सुरक्षा व सफाई व्यवस्था लचर रही है। लगातार शिकायतों के बाद भी गंभीरता नहीं दिखाई गई है। हर 8 घंटे के लिए 1 चिकित्सक, 2 नर्स, 1 सुरक्षा गार्ड व अन्य की ड्यूटी लगाई जाती है।

आईसीयू में धूल का अंबार, बेड पर पीपीई किट पड़ा
जंबो कोविड सेंटर के एक चौथाई हिस्से में आईसीयू बनाया गया है। मंगलवार को उसका हाल जाना गया तो अंदर मौजूद बेड पर धूल का अंबार मिला। किसी मरीज की पीपीई किट एक बेड पर पड़ी मिली। यहीं नही इस वार्ड में हर बेड के साथ रखे गए नए वेंटिलेटर कबाड़ हो रहे हैं।

निगम के स्वास्थ्य अधिकारी को जानकारी दी है

निगम के स्वास्थ्य अधिकारी को जानकारी दी गई है। इसके बाद भी सफाई नहीं की गई है। पुन: निगम अधिकारियों को अवगत कराया जाएगा। यह बात सही है कि कचरा जहां का तहां पड़ा है। ब्रेक फास्ट व लंच की व्यवस्था सुधारी जाएगी। डॉ. एस के जामगड़े नोडल, जंबो कोविड सेंटर भिलाई


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

en_USEnglish