ओवरस्पीड से होने वाले हादसों में लगातार इजाफा:डिवाइडर पार कर ट्रक से टकराई तेज रफ्तार कार, 2 दोस्तों की मौत

ओवरस्पीड से होने वाले हादसों में लगातार इजाफा:डिवाइडर पार कर ट्रक से टकराई तेज रफ्तार कार, 2 दोस्तों की मौत

मंगलवार सुबह एक तेज रफ्तार कार नेशनल हाईवे के डिवाइडर पर चढ़कर दूसरी ओर उतर गई और ट्रक से टकरा गई। इससे कार सवार दो दोस्तों की मौत हो गई। तीसरा घायल हो गया। घटना में बचे दोस्त के मुताबिक उसके दोस्तों को ठीक से कार चलाना नहीं आता था। घटना के समय कार काफी रफ्तार में थी इसलिए बेकाबू हो गई। कार चला रहे दोस्त ने सीट बेल्ट भी नहीं बांधी थी।

हाईटेक सेफ्टी फीचर्स नहीं थे:पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक चालक सीट पर बैठे छात्र सौरभ यादव ने न सीट बेल्ट बांध रखी थी और न ड्राइविंग लाइसेंस अपने पास रखा था। इसके अलावा एस. कामेश ने भी बिना सीट बेल्ट के कार चलाई। कार पुरानी होने की वजह से उसमें हाईटेक सेफ्टी फीचर भी नहीं थे।

कार दो बार पलटी
मंगलवार सुबह हादसा करीब 6.30 बजे हुआ। पुलिस के मुताबिक हादसे की वजह ओवर स्पीड रही। इसके चलते वह डिवाइडर पर चढ़ गई। करीब 20 मीटर कार डिवाइडर पर चलती रही। इस दौरान वाहन चला रहा सौरभ यादव स्पीड कंट्रोल नहीं कर सका। इसके चलते कार स्पीड से दूसरी ओर उतर गई और ट्रेलर से टकरा गई। ट्रेलर के ड्राइवर ने ब्रेक भी लगाए, लेकिन उससे पहले कार टकराकर छिटक गई। इस दौरान कार ने दो बार पलटी खाई। इससे उसका ऊपर का हिस्सा पूरी तरह पिचक गया।

ओवर स्पीड से हादसे बढ़ रहे
शहर में हादसे पर ही हादसों की संख्या में लगातार इजाफा होता जा रहा है। इसमें भी बड़ी वजह ओवर स्पीड ही रहती है। ओवर स्पीड के आंकड़ों में साल-दर साल लगातार इजाफा हो रहा है।

वर्ष 2022 के सात महीने में एनएच पर 20 से ज्यादा हादसे हो चुके हैं। जिसमें कार में सवार तीन से चार-चार लोग की मौत हो गई। जबकि प्रत्येक वर्ष केवल ओवर स्पीड की वजह से हाईवे पर 30 से 40 लोग जान गंवा रहे हैं। इसके बाद एनएच और ट्रैफिक पुलिस हादसे कम करने के उपायों पर काम नहीं कर रही है।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

en_USEnglish